शुभकामनाये/ लेटर्स देखें /सत्यापन

(डाईरेक्टर- डॉ नरेश मिश्रा ) mo- 09336104146,9336850868 नकली संस्थाओ के बारे मे इसी वेबसाइट में देंखे –

जिला – गोण्डा , उत्तर प्रदेश के माननीय C.M.O महोदय ने साई मिशन ट्रस्ट से संचालित हमारी संस्था – इंडियन मेडिकल बोर्ड नेचरोपैथी सिस्टम से पास चार वर्षीय कोर्स BAMS (Nat ) के आधार पर अपने यहां डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में इंटर्नशिप के लिए अधिकृत किया था संस्था से NOC  माँगा जिसे संस्था द्धारा डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल के चीफ  मेडिकल सुपरिटेंडेंट को उपलब्ध कराया गया -उपरोक्त लेटर की प्रति नीचे देंखे –

img20170531_13012576  img20170531_130256363

img20170531_13083287img20170531_13113941
देश के प्रधान मंत्री माननीय मुख्यमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्धारा तात्या साईं बाबा को तथा उनके परिवार के लिए होली के पावन अवसर पर भेजी गयी शुभकामनाये                                                                     दिल्ली प्रदेश के  माननीय मुख्यमंत्री    श्री केजरीवाल जी ने तात्या साईं महाराज से आशीर्वाद की कामना की है। और अपना शुभ सन्देश भेजा।माननीय श्री मुलायम सिंह जी द्धारा तात्या साईं महाराज को अपनी हार्दिक शुभकामनाये भेजी।उत्तर प्रदेश के राज्यपाल माननीय श्री विष्णुकांत शास्त्री ने तात्या साईं महाराज के कार्यों की सराहना की और लिखा बहुत अच्छा लगा।डॉ नरेश मिश्रा ही अब साईं बाबा की कृपा से तात्या साईं बाबा / तात्या साईं महाराज है            गुजरात प्रदेश की मुख्यमंत्री माँननीय श्री आनंदीबेन पटेल ने दीपावली एवं नए वर्ष की हार्दिक शुभकामनायें तात्या साईं बाबा को भेजी।राजस्थान की मुख्यमंत्री  श्री वसुंधरा राजे ने नए वर्ष की हार्दिक शुभकामनाये तात्या साईं महाराज को भेजी।

img013img173 img614img616 img615img819

img326img860  img838 

: WISHES OF V.I.P. PERSONS :- 

Rastrapati Bhwan (New Delhi 110004)
Aug 20, 2007To,
The Director  IOSMS University Development Pariyojana,
I thank you for yor good wishes and kind sentiments expressed on the occasion of my assumption of office.
With Best wishes
Your Sinceirly
Pratibha Devisingh Patil

05.09.2007Dear  Dr. Mishra,I am expressing my heartly feeling to your well wishes.
Mo. Hamid Ansari
Voice President of India

15.06. 2009To Yogacharya Naresh Dev,
Thanks for your good wishes- With heartly well wishes.
Man Mohan Singh
Prime Minister
The Govt. of  India

21.10.1999Dear,Received your souvenir & memorandum Your Attempts are appreciable in the field of Alternative Medicines.With Best wishes
Lal Krishna Advani
Home Minister
New Delhi

28.05.2004Dear  Dr. N. Kumar Ji,Received your well wishes thanks we will receive power & directions from its with great feeling.
Shiv Raj V. Patil
Home Minister – India

15.10.2005DearDr. Naresh Ji,Your Medical organisation will create a programme to give benefit to the people specially who belonging in Rural and Urban Areas by Yaga Neturopathy & Alternative therapys.With Best wishes
Mulayam Singh Yadav
Cheif Minister (U.P.)

20.10.2003Dr. N. Mishra,Recived Your well wishes letter. Thank you very much. Please accept our greatings for Happy Dewali.
Rajveer Singh
Health Minister (U.P.)

26.06.2009Dear Dr. Naresh Mishra Ji,I also wish to have your co-operation for the continued pease , Harmony and sucess of our Nation.With Best Regards
S. Gandhi Selvan
Minister of State
For Health & Family Wellfare(Govt. of India)

20.10.2003Dear Shri Maharaj Ji,We are sending a greating of deepawali. We eill wait for your creative suggestion thanks for your well wishes.
B.S. Gangwar
State Health Minister
Homoeopathic & Ayurved System

Yogacharya Naresh Dev ji,
Hony. Governor of U.P. Sending well wishes to success of your international conferenceWith Best wishes
Hari Charan Prakesh
Special Secretary
Hony.Governor
Raj Bhawan Lucknow

For Yoga Training
Dr. Naresh Dev is going to Spain for to teach Yoga Traning.
Manish Kumar Sachchar
Sp. Working Officer of Rajya Minister
Govt of India

1- महामहिम राष्ट्रपति अब्दुल कलाम  तथा उत्तर प्रदेश के गवर्नर से प्राप्त पत्र जिसमे  लिखा है कि   आपका कार्य बहुत अच्छा है

२- स्वास्थ्य  परिवार कल्याण मंत्री से प्राप्त पत्र -२००४

३ -राष्ट्रपति भवन से प्राप्त पत्र -१५ फ़रवरी  २००३

४ – विश्व स्वास्थ  संगठन (W .H .O ) जिनेवा से प्राप्त पत्र

५ – गृहमंत्री – भारत सरकार से प्राप्त पत्र- वर्ष २००४

६ -राष्ट्रपति सचिवालय से प्राप्त पत्र -वर्ष २००२

७- सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायधीश को भेजा गया पत्र -वर्ष २००४

८ – उत्तराखंड सरकार से मेडिकल हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर सर्विसेज से प्राप्त पत्र -वर्ष २००७

९-मुख्यमंत्री कार्यालय अनुभाग -२ से प्राप्त पत्र

१० – इनकम टैक्स कार्यालय से प्राप्त पत्र

११ -इटली के एक डॉक्टर से प्राप्त पत्र

१२ -दिल्ली  की मुख्यमंत्री  श्रीमती शीला दीक्षित  से प्राप्त पत्र

१३ -आंध्र प्रदेश के मुख्य चिकित्सा अधिकारी का पत्र एटानगर -आंध्र प्रदेश

१४ – जनसूचना अधिकारी स्वास्थ मंत्रालय भारत सरकार को लिखा गया पत्र

१५-मिनिस्ट्री ऑफ़ हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर भारत सरकार का  पत्र

१६ -उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री का पत्र वर्ष २०१२

१७ -राष्ट्रीय प्राक़तिक चिकित्सा संस्थान – भारत सरकार (आयुष विभाग ) का पत्र

१८-गृह मंत्रालय भारत सरकार से प्राप्त पत्र

१९ -फॉरेन कॉन्ट्रीब्यूशन  एक्ट  के लिए मैड्डि स्पेन से प्राप्त पत्र

२० -अमेरिकन बायोग्राफ़िकल  इन्सटीट्यूट  अमेरिका से प्राप्त पत्र

२१कनाडा नर्सिंग कॉउंसिल से वेरिफिकेशन के लिए प्राप्त पत्र

२२ -W.H.O  जेनेवा स्विट्ज़रलैंड को भेजा गया पत्र

img950img910img911img912img913img914img915img916img917img918img919img920img921img922img923  

दिल्ली  की मुख्यमंत्री श्रीमती शीला  दीक्षित  से प्राप्त पत्र img938img939 img940img941img942img943img945img946img947img948 img949 img951


M.D. (AM),I have completed my MD(AM) course from your Board now I am working well & getting goodwil & honour. I have built my carrier in the altermedical field. A lot of thanks to the members & director of the Board.
Prof. Audino
Rome ITely
Marko

Dear Sir,I have completed Alternative Course & Registration from your Board. Now I feel very pleasure and working well I had got your address from the Councellor service of Indian Embassy.
Dr. G.B. Deen
Stanly Rose Hills, Mauritius

Course & registrationI had completed my course & Registration from the Board I am getting good success in service of humanity. A lot of thanks to Board Executive With Best wishes
Dr. Morengthem K.Singh
Imphal Manipur

Award & CourseI had completed the courses from The Moved IOSMS University and obtained The Sewa Chakra & The Gold medal Award in the Inter National conference by Chief guest I feel great pleasure.
Dr. B.M. Jony
Juna Garh Gujrat

Medical Tranning CentreWe have taken affiliation from the moved IOSMS University We are running the courses in alternative therapies successfully in our cricle. The best wishes for executive and staff.
Dr. Dwivedi
Shivani Alternative Paramedical College Shahdol (M.P.)

I had completed CMSED Course from this organisation and taken registration. I am practing well in the section of Primary Health services.
Thanks
Dr. Vipul Kumar Haldar
Kakri Ghat, Almorah(U.K.)

VERIFICATION OF THE INSTITUTE
Verification of the Affiliated Institute “SULTANPUR  Naturopathic yoga paramedical College”  has been Send to the Superintendent of Police, SULTANPUR U.P.
(Vide No. 2306 of the S.P. Office Date 27/05/2005)


VERIFICATION OF DNYS CERTIFICATE
Send- Verification of DNYS Certificate of Dr. T.Srinivas (KARNATAKA)to Sub Inspector of Police, Bangalore (KARNATAKA).
(Ref- 360/09/dated 27/10/2009)


VERIFICATION OF CMS CERTIFICATE
Send- Verification of CMS Certificate of Dr. Narain Thapa. To, Administrative Officer Council for Technical Education & Vocational Training Govt. of NEPAL
(Vide- Letter No. 1136/23 Dec 2007)


VERIFICATION OF DMLT CERTIFICATE
Send- Verification – To The Director General Medical Health family Welfare Services U.K.
(Vide No. MF/LT/EXAM/02/2007/7069 Date 3 April 2007)


FOR LEGISLATION
An Application Moved to Rajya Sabha Secretariat (Parliament of India ) To Recognize CMS Training course To, Shri G.C.Miglani Director Rajya sabha Secretariat New Delhi 110001
(Vide File No.RS6 (1)/2004-COM II Date 26 Feb. 2005)


FOR-CMS TRAINING TO THE CENTRAL GOVT.
Wrote about the Diploma course of CMS Doctor with a list of 100 Medicines based on Essential Drugs for primary Health Care Published by world Health Organization
To,
Hony Gulam Nabi Azad
Health Minster Govt. of India
(Date 11 March 2010)


Send- Information’s about Alternative Systems and Activities of Indian Medical Board (Alternative System)
To The Registrar
Bharjiya Chikitsa Parishad
Uttar Pradesh Lucknow U.P.
Letter No. N/1BM/03/2002 March 2002


Send The Copy of Resolution and Which was passed in International conference
To All Ministers,
M.P./MLAs Including Hony Governor
Chief Minister, Prime Minister of State & Central Govt. 22 Feb. 1999


Give Well Wishes and Pray to Establish a University for Alternative Medical Studies.
To Shri H.P Kumar,
Director General of Health UP Govt. Lckonow
17 Oct. 2003
Copy To-
1. Chief Minister U.P.
2. Health Minister Govt. of India
3. Medical Council of India


Wrote For Recognition of New Systems of Medicines
Draft Bill 2005
Shri Ram Dasa
To, Health Minister Govt. of India
Vide No NYP/260/2005 Dated 20 Dec 2005


Move
An Application
For Registration OR Enlistment of the Institute Reffering.
Writ No 820 of 2002 Dated 15/03/2004 in Honor of High Court Judgement
To,  The Chief Secretary Medical & Health U.P. Govt. Lucknow
(Vide No. EE 709039325 IN) 24/04/2004 )


Send A Resolution to Health Minister to open GovtAlternative Medical Colleges And to make law for Alternative medical Practitioners.
To,  Hony. Shri C.P.Thakur Health Minister
The Govt. of India
Vide No. PR No.3498


Wrote & Request-
Permit to Setup a Deemed University of Alternative therapies to IMBAS.
To,  The Director University Grant Commission (UGC) New Delhi
(Vide File No3783/9May2002).


 Well Wishes
Send- Well wishes to the chief Judge of Hony. Supreme Court Hoping that. The CMS Diploma holders will get Proper Protection and Judgment Under your direction.
To,
Hony. Shri Ramesh Chand Gulati
The Chief Judge
The Supreme Court of India
2 June 2004.


Ask- The Direction
For The Government- Registration of yoga & Naturopathic Doctors/Practitioners
To,  Registrar Bhartiya Chikita Parishad 7 Lal Bagh. Lucknow U.P.
Ref. No (NYPC/SAR. KATYA./52/12/2004 )
To Send Information About MD.(Alt.) Course


In Verification of MD(Alt) Certificate By CMO  Ghazipur.
Send-The Verification of MD (Alt) Certificate and other informations about Alternative Therapies & Judgements given by Hony. High Court & Hony. Supreme Court.
Copy To
1.CMO-Ghazipur
2. Registrar- Bhartiya Chikitsa Parishad
3. Registrar State Medical Faculty
4. Registrar U.P. Health Services Govt. of U.P.


Ask For- Affiliation & Registration
Ask The Direction- for talking Affiliation & Inquiry about the Registration of  Yoga & Naturopathic Practitioners/Doctors.
To,
The Registrar Ayurved Yog, Naturopathic,
Unani , Siddha Homoeopathy
Department Health & Family New Delhi Govt. of India.
(Ref. NYPC/Govt./JOB/12.04) 14Dec.2004)


Our Attempt Appreciated
Our Attempt Are Appreciated under IEC by Health Ministry.
Vide File No. (U-12019/24/2005-IEC(Pt.)
Govt. of India Ministry of Health & Family Welfare Ayush Department.


File To Setup- An University
An Application File is moved for to set up An University under FCR Act. in the 
Home Ministry

Received R.L. Feb.26, 2007
(Vide File No. II 2102/94(0759-01) 2006 )
Govt. of India /Bharat Sarkar Ministry of Homoeaffairs New Delhi 110011

महारास्ट्रा पुलिस द्वारा  प्रमाण पत्रों का सत्यापन –

img924img925  img582

उत्तर प्रदेश के संत कबीर नगर डिस्ट्रिक के मुख्य चिकित्सा अधिकारी ( CMO )  द्वारा हमारी  संस्था – इण्डियन कौंसिल ऑफ़ मेडिको टेकनिकल्स एण्ड हेल्थ केयर द्वारा जारी – CMS  योगा कोर्स मे दिया गया रजिस्ट्रेशन –

 

img584

कन्नौज उत्तर प्रदेश के मुख्य चिकित्सा  अधिकारी (CMO ) द्वारा  प्रमाण पत्रों का सत्यापन –

गोरखपुर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ( CMO )  द्वारा नेचुरोपैथी मे दिया गया रजिस्ट्रेशन –

img836

मेडिकल कौंसिल ऑफ़ इंडिया (MCI ) का पत्र जिसमे लिखा है कि  इस संस्था से कोर्स पास किये गए चिकितसकों ( डॉक्टर्स ) को मेडिकल कौंसिल ऑफ़ इंडिया (MCI )मे रजिस्ट्रेशन कराने कि आवश्यकता नहीं है –

img837

पंजाब से ड्रग इंस्पेक्टर द्वारा प्रमाण पत्रों  सत्यापन –

img862img861

दिल्ली पुलिस द्वारा प्रमाणपत्रों  का सत्यापन –

img653img652

C.M.S.  कोर्स के प्रमाण पत्र जारी करने के तथा संस्था से सम्बंधित प्रपत्रों  के सत्यापन के सम्बन्ध में    –

इस सम्बन्ध मे सहारनपुर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने cms  कोर्स और संस्था के सत्यापन के सम्बन्ध मे जानकारी मांगी है संस्था द्वारा cmo  महोदय को निम्न जानकारी प्रेषित कर दी गयी है तथा इसकी एक एक प्रति

1-  माननीय श्री नरेंद्र  मोदी  प्रधानमंत्री                5- परिवार कल्याण मंत्रालय लखनऊ

2- केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ,स्वास्थ्य मंत्रालय          6- भारतीय  चिकित्सा परिषद  उत्तर प्रदेश

3- स्टेट मेडिकल फैकल्टी उत्तर प्रदेश                    7-   समस्त जिलो के मुख्य चिकित्सा अधिकारी

4- चिकित्सा मंत्रालय लखनऊ                       8- शिवम इन्सीट्यूट ऑफ  मेडिकल & हेल्थ साइंस नागल सहारनपुर

को भेज  दी गयी है। हमारी संस्था के लीगल एडवाइजर श्री एम० रंजन०एडवोकेट हाई कोर्ट, ने सहारनपुर जिले के cmo  महोदय से जन सूचना अधिकार   अधिनियम 2005 के तहत पूँछा  है कि माननीय  सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के विरुद्ध आप द्वारा या आपके कार्यालय द्वारा क्या ऐसा कोई आदेश पारित किया गया है जिसमे cms डिप्लोमा धारी चिकित्स्को को प्राथमिक चिकित्सा सेवा के लिए रोका गया है यदि हा तो सही सूचना के साथ ऑडर की प्रतिलिपि निर्धारित अवधि मे उपलब्ध कराने  का कष्ट करे -क्यों की माननीय  सुप्रीम कोर्ट ने अपने एक निर्णय मे कहा  है कि cms  डिप्लोमा धारी चिकित्सक संक्रामक रोगो सहित सभी रोगो का उपचार कर सकते है अपने मरीजों को मेडिकल प्रमाण पत्र दे सकते है —-अभी तक इस सम्बन्ध मे cmo महोदय द्वारा हमे कोई सूचना प्राप्त नही हुई है। –इसी प्रकार हर जिले के माननीय cmo  महोदय को लिखा जा रहा है –

प्रेषक-

एस0 के0 तिवारी (एडवोकेट)

C/O एम रंजन एडवोकेट एंड एसोसिएट्स हाईकोर्ट

लीगल एडवाइजर- इंडियन कॉउंसिल ऑफ़ मेडिको टेक्नीकल्स एंड हेल्थ केयर

एच -1099 सत्यम विहार  कल्यानपुर,

कानपुर 208017 (उत्तर प्रदेश)

 

सेवा में,                                                                                          दिंनाक :-21/10/2014

श्रीमान मुख्य चिकित्सा अधिकारी  ,                                             पत्रांक :-  OCT/GOVT./ENQ./CMO/271/2014

जिलासहारनपुर 

उत्तर प्रदेश  

विषय- C.M.S.E.D  कोर्स के प्रमाण पत्र जारी करने के तथा संस्था सेसम्बंधित प्रपत्रों  के सम्बन्ध में    –

माननीय महोदय  ,

आप द्वारा प्रेषित पत्र -पत्रांक :मुख्य चिकित्सा अधिकारी /सत्यापन /2014 /1134 – दिंनाक 9/अक्टूबर  /2014 – हमारी  संस्था से मान्य  परीक्षा केंद्र – शिवम इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल एंड हेल्थ साइंस  के संचालक डॉ0 राजेश शर्मा के माध्यम से दिंनाक १७ /१० /२०१४ –  को प्राप्त हुआ है । बहुत- बहुत धन्यवाद  ।

कृपया जांच के सम्बन्ध में निम्न तथ्यों का अवलोकन करे –

(1)यह कि संस्था इंडियन कॉउंसिल ऑफ़ मेडिको टेक्निकY एंड हेल्थ केयर”, जन स्वास्थ्य शिक्षण संस्थान द्वारा संचालित है  जो उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सोसाइटी रजिस्ट्रेशन अधिनियम 21,1860 – के अंतर्गत रजिस्टर्ड तथा भारत सरकार के ट्रस्ट रजिस्ट्रेशन अधिनियम १८८२ के अंतर्गत – साईं मंदिर चैरिटेबल मिशन ट्रस्ट द्वारा संरक्षित है। तथा वर्ष 1987  से वैकल्पिक चिकित्सा और प्राथमिक स्वास्थ्य सेवा के  क्षेत्र में ही कार्य कर रही है, तथा विभिन्न चिकित्सा पद्धतियों में प्रचार एवं प्रसार प्रशिक्षण देने हेतु विधि मान्य इकाई है । देखें संलग्नक:- 1-3.

(2) यह कि हमारे मुवक्किल डॉ0 नरेश मिश्रा जो जन स्वास्थ्य शिक्षण संस्थान के अध्य्क्ष हैं और संस्था द्वारा संचालित इंडियन कॉउंसिल ऑफ़ मेडिको टेक्नीकल्स एंड हेल्थ केयर के डायरेक्टर हैं संस्था का पूर्व में कार्यालय जी0 टी0 रोड , चौबेपुर- कानपुर – 209203 (देहात) उत्तर प्रदेश में था जो सरकारी अभिलेखों में दर्ज है ,  वर्तमान  में कार्यालय  का पता – एच 1099 सत्यम विहार कल्यानपुर कानपुर 208017 उत्तर प्रदेश है ।

(3) यह कि संस्था अपने उद्देश्य – विभिन्न चिकित्सा पद्धतियों में प्रचार प्रसारकरना एवं प्रशिक्षण देना – के अंतर्गत- वैकल्पिक चिकित्सा पद्धतियों यथा योगा, नेचुरोपैथी और प्राथमिक चिकित्सा सेवा के लिए- विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा प्राथमिक चिकित्सा के लिए मान्य औषधियों में केवल अनुभवी चिकित्सकों – इच्छुक अभ्यर्थियों को नामित  कर प्रशिक्षण देने का कार्य पूर्ण करती हैं।

(4) यह कि- इच्छुक अभ्यर्थियों को प्राथमिक चिकित्सा और वैकल्पिक चिकित्सा में प्रशिक्षण पूर्ण करने के उपरान्त ही डिप्लोमा के रूप में प्रमाण पत्र / सर्टिफिकेट निर्गत किये जाते हैं, तथा कोर्स उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को संस्था से सम्ब)  प्रशिक्षण केन्द्रो में प्रत्यक्ष कर्माभ्यास कराया जाता है ,  और प्राथमिक चिकित्सा के लिए  संगठन में सदस्य के रूप निबंधित किया जाता है। जब तक कि सरकार द्वारा इस सम्बन्ध में कोई सकारात्मक कार्यवाही नहीं की जाती है ।

(5) यह कि इच्छुक अभ्यर्थियों से तात्पर्य है कि अभ्यर्थी को वैकल्पिक चिकित्सा / सी0.एम0.एस0./सी0.एम0.एस0.ई0.डी0.                                                                          आदि के  कोर्सेज तथा संस्था की मान्यता सम्बन्धी सभी सत्य और सही जानकारी प्रॉस्पेक्टस से तथा मौखिक रूप से दे दी जाती है  इसके बादभी यदि अभ्यर्थी प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए सहमत होता है तब उसे प्राथमिक चिकित्सा और वैकल्पिकचिकित्सा में प्रशिक्षण कार्य  पूर्ण कराया जाता है. और इस तथ्य का प्रमाण पत्रों में भी स्प’V उल्लेख  किया जाता है।

(6) यह कि संस्था द्वारा सरकारी मान्यता सम्बन्धी  किसी प्रकार का कोई झूठा दावा  नहीं किया जाता है और न ही किसी ऐसे कोर्सेस का संचालन किया जाता  है जिनका  संचालन सरकार द्वारा किया जाता है जैसे एलोपैथी में एम0.बी0.बी0.एस0. आयुर्वेद में बी0 ए0 एम0 एस0 आदि तथा कोई ऐसा विज्ञापन भी नहीं दिया जाता है जिससे जनमानस में भ्रामक सन्देश जाये।

(7) यह कि हमारी संस्था- मेडिकल कॉउंसिल ऑफ़ इंडिया एक्ट 1956 का उल्लंघन करने की पक्षधर नहीं है न हीं संस्था उल्लंघन करती है न भविष्य में करेगी । तथा संस्था किसी अन्य संस्था, व्यक्ति या संगठन को उल्लंघन करने का न तो प्रोत्साहन देती है और न ही समर्थन करती है – संस्था केवल वैकल्पिक चिकित्सा एवं प्राथमिक चिकित्सा के क्षेत्र में ही कार्य करती है ।

(8) यह  कि संस्था अपने मौलिक अधिकारों के अंतर्गत प्राथमिक चिकित्सा के क्षेत्र में कार्यरत अनुभवी चिकित्सकों , स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं तथा सी एम एस डिप्लोमा धारी चिकित्सकों का रजिस्ट्रेशन करतh है जो संस्था के संगठन के सदस्य के रूप में नामित होते है और संस्था द्वारा , इनको – इनके मौलिक अधिकारों के लिए संरक्षण दिया जाता है और यदि कोई सी0एम0एस0 डिप्लोमाधारी प्राथमिक चिकित्सक अपनी लिमिटेशन के बाहर कार्य करता है तो उसके लिए वह स्वयं जिम्मेदार है संस्था उसके लिए उत्तरदायी नहीं है

(9) यह कि संस्था द्वारा किया गया रजिस्ट्रेशन सरकारी रजिस्ट्रेशन नहीं होता है और न ही मेडिकल कॉउंसिल ऑफ़ इंडिया के रजिस्ट्रेशन की तरह सरकारी मान्यता नहीं रखता है तथा किसी को भी चिकित्सा कार्य करने का अधिकार भी नहीं प्रदान करता है सूP; हो कि सी0 एम0 एस0 डिप्लोमाधारी चिकित्सकों को चिकित्सा कार्य का अधिकार माननीय सुप्रीम कोर्ट ऑफ़ इंडिया ने दिया है जो सभी संस्थाओं संगठन, व्यक्ति , समाज , राज्य सरकारों तथा केंद्र सरकार – सभी के लिए सम्मानीय है अनुकरणीय है।

(10) यह कि प्राथमिक चिकित्सा सेवा के लिए मेडिकल कॉउंसिल ऑफ़ इंडिया (M.C.I)/और भारतीय चिकित्सा परिषद में रजिस्ट्रेशन नहीं होता है क्यों कि प्राथमिक चिकित्सा  सेवा के  लिए सरकारी रजिस्ट्रेशन का प्राविधान नहीं है । ऐसे चिकित्सकों dk सरकार द्वारा रजिस्ट्रेशन किया जाना है पूर्व में भी सरकार द्वारा सरकारी रजिस्ट्रेशन जारी किये गए थे . जब सरकार द्वारा रजिस्ट्रेशन जारी किया जायेंगे, तब हमारी संस्था ऐसे रजिस्टर्ड प्राथमिक चिकित्सकों को सरकारी रजिस्ट्रेशन दिलाने में सहायता व मार्गदर्शन करेगी ।

(11) यह कि हमारी संस्था झोलाछाप डॉक्टरों की पक्षधर नहीं है किन्तु जनसँख्या (1 अरब 25 करोड़ से ऊपर) और योग्य चिकित्सकों की कमी (लगभग 8 लाख) के अनुपात को देखते हुए 5 -10 वर्ष के अनुभवी चिकित्सकों को उनके ज्ञान में सुधार लाने हेतु प्रशिक्षित करने का कार्य कर – हमारी संस्था द्वारा उन्हें प्राथमिक चिकित्सा सेवा  के लिए योग्य बनाया जाता है यद्यपि यह कार्य सरकार द्वारा किया जाना चाहिये। और सरकार द्वारा विचाराधीन भी है।  देखें संलग्नक: – 6.

(12) यह कि संस्था समय समय पर शासन / प्रशाशन से इस बात की मांग करती है/ करती रही है कि अनुभवी चिकित्सको को सरकारी संरक्षण देकर प्रशिक्षित किया जाये – वर्त्तमान में -केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री माननीय डॉ हर्ष वर्धन द्वारा इस तरह के कदम उठाये गए हैं। देखें संलग्नक:-7.

(13) यह कि माननीय उच्च न्यायालय की अवमानना याचिका स० 820 ऑफ़ 2004 के निर्देश. के सम्मान व समयबद्ध अनुपालन के सम्बन्ध में – संस्था द्वारा माननीय प्रमुख सचिव – चिकित्सा एवं स्वास्थ्य उत्तर प्रदेश लखनऊ को संस्था का प्रतिवेदन पत्र दो प्रतियों में अपने हाई कोर्ट के लीगल एडवाइजर से प्रमाणित करा कर दिंनाक 22-04-2014 को भेजा जा चुका है। तथा उसकी एक एक प्रति सी0एम0ओ0 कार्यालय को भेजी गयी थी। तथा एक एक प्रति मुख्य न्यायाधीश तथा केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को भेजी गयी थी । देखें संलग्नक:-4 , 5.

(14) यह कि आज के विकसित समय में कोई सी0 एम0 एस0 डिप्लोमा धारक प्राथमिक चिकित्सक जमीन पर – टाट ,बोरा बिछाकर प्राथमिक चिकित्सा की सेवाएं नहीं देगा और न ही गली – गली घूम घूम कर बोलेगा कि प्राथमिक चिकित्सा की सेवाएं ले लो , कम से कम एक कमरे में एक कुर्सी एक मेज, दो बेंच और एक दो छोटे तखत डालकर बैठेगा

(15) यह कि हमारी संस्था ऐसे सभी सी0एम0एस0 डिप्लोमाधारी प्राथमिक चिकित्सको की आजीविका और सम्मान की रक्षा करने के लिए तथा उन्हें न्याय दिलाने हेतु एवं उनके लिए क़ानूनी संघर्ष करने के कटिबद्ध है समर्पित है

(16) यहकि सी0एम0एस0 धारक प्राथमिक चिकित्सक को प्रताड़ित करना या उन पर फ़र्ज़ी डॉक्टर का अभियोग लगाना उनके मौलिक अधिकारों का उल्लंघन , मानहानि और सुप्रीम कोर्ट के निर्णय की अवहेलना करना तथा अवमानना (कंटेम्प्ट ऑफ़ कोर्ट) है इस  तथ्य पर गंभीरता से विचार करने की आवश्यकता है।

(17) यह कि फ़र्ज़ी डॉक्टर वह डॉक्टर है – जो नाम के साथ बोर्ड पर एम0बी0बी0एस या बी0ए0एम0एस लिखता है और कोई डिग्री कोर्स पास नहीं है। या जिस कॉलेज या यूनिवर्सिटी के प्रमाण पत्र दिखाता है और वे प्रमाण पत्र सम्बंधित कॉलेज या यूनिवर्सिटी में रिकार्डेड नहीं है।

(18) यह कि इसी प्रकार झोलाछाप डॉक्टर वह डॉक्टर है जो कक्षा 5- 8 या 10 भी पास नहीं है और न ही कही से कोई डिप्लोमा या प्रशिक्षण लिया  है और क्लिनिक खोल कर उपचार कर रहा है ऐसे चिकित्सकों पर कार्यवाही करना सर्वथा उचित है और इसे रोका जाना चाहिए

(19) यह कि सी0एम0एस0 डिप्लोमा धारी प्राथमिक चिकित्सक और डिग्रीधारी एम0बी0बी0एस डॉक्टर्स में प्रमुख अंतर यह है कि एम0बी0बी0एस डॉक्टर – सर्जरी करता है , रेडिएशन थेरेपी करता है , ब्लड ट्रांस फ्यूजन करता है , आई0सी0यू0 /वेंटीलेटर अटेंड करता  है ,  वेलफिनिश्ड क्लीनिक /हॉस्पिटल खोलता है *  जब कि सी0एम0एस0 डिप्लोमाधारक ऐसा कुछ भी नहीं कर सकता है ।वह केवल जुखाम, बुखार,खांसी आदि सामkन्य बhमारियो का प्राथमिक उपचार वि”o स्वास्थय संगठन द्वारा प्राथमिक चिकित्सा के लिए मान्य दवाओं से करता है। औरयदि कोई सी0एम0एसडिप्लोमाधारी चिकित्सक अपनी लिमिटेशन के बाहर कार्य करता है तो उसके लिए वह स्वयं जिम्मेदार है संस्था उसके लिए उत्तरदायी नहीं है ।

(20) यह कि इससे पूर्व भी कई जिलो के माननीय वरिष्ट पुलिस अधिकारी जैसे सुल्तानपुर पत्रांक स0 रल 711491-8749/410 Date 4-03-2005 बंगलोर REF CIMS NO 360/09/27/10/2007)  फ़िरोज़ाबाद ज़िले के माननीय सेशन जज पत्रांक स0 (र -२१८९/15.09.2011)- Case of  ३१/३ Pet No .1699/०९ तथा कई ज़िलों के माननीय C.M.O महोदय द्वारा संस्था के अभिलेखों या संस्था द्वारा जारी प्रमाण पत्रों के सम्बन्ध में जांच आंख्या मांगी जा चुकी है तथा उसकी प्रति भारतीय चिकित्सा परिषद  ७ लाल बाग़ लखनऊ उत्तर प्रदेश स्वास्थ्य सेवाएं एवं उत्तर प्रदेश  स्टटे मेडिकल फैकल्टी को प्रति भेजने के लिए लिखा गया था जिनमे से प्रमुख है सी0 एम0 ओ0 विजनौर पत्रांक संख्या –  क्यू0 सी0 – 2001/4306 ) , सी0 एम0 ओ0 ग़ाज़ीपुर (पत्रांक स0 मो चि/सत्यापन 2004-05/2978/20/08/2004) , सी0 एम0 ओ0 गोंडा (पत्रांक स0 शिक्षा जाँच 09-96/2-7/10/2009),  सी0 एम0 ओ0 कन्नौज  (पत्रांक स0 मु0 चि0 अ0/सत्यापन 2011/1299/9-9-2011)  आदि आदि । पूर्व में  भी 1987 से जहाँ जहाँ से जांच आंख्या मांगी गयी , संस्था द्वारा सही सही सत्य जानकारी प्रमाणित प्रपत्रों सहित अपने हाई कोर्ट के लीगल एडवाइजर से प्रमाणित कराकर भेजी जा चुकी है।इसी प्रकार संस्था से प्रशिक्षित नैचुरोपैथिक चिकित्सकों का १५-२० जिलों के माननीय सी0 एम0 ओ0 महोदय ने अपने यहाँ से रजिस्ट्रेशन  प्रमाण पत्र जारी किये हैं। जिनमे  से प्रमुख है गोरखपुर , इलाहाबाद , मिर्ज़ापुर, संतकबीरनगर , झाँसी ,  सीतापुर , प्रतापगढ़ आदि आदि –

(21) यह कि  उपरोक्त में या संस्था के सम्बन्ध में अन्य कोई जानकारी चाहते हैं तो निसंकोच लिखे तथा आप अपना मार्गदर्शन , सुझाव , विचार हमे अवश्य भेजें। जिससे देश की गरीब जनता एवं पीड़ित मानवता को प्राथमिक चिकित्सा की सुविधाएँ और बेहतर ढंग से मिल सके ।  आपके सुझावों ,  विचारों और मार्गदर्शन को अपना कर सरकार का सहयोग लेते हुएसंस्था के कार्यक्रमों को कुछ और अच्छे ढंग से प्रतिपादित / क्रियान्वित कर सकें।

आदर सहित ।

शुभेक्क्षु :-

एस  के तिवारी (एडवोकेट)

उत्तर प्रदेश के गाजीपुर डिस्ट्रिक के मुख्य चिकित्सा अधिकारी ( CMO )  द्वारा प्रमाण पत्रों का सत्यापन जिसकी प्रति स्टेट मेडिकल फैकल्टी और भारतीय चिकित्सा परिषद  को भेजी गई –

img655 img657

सुल्तानपुर डिस्ट्रिक के मुख्य पुलिस अधीक्षिक  ( सुप्रीटेंडेंट आफ पुलिस )   द्वारा केन्द्र  का सत्यापन –

img658

इण्डियन कौंसिल आफ मेडिको टेकनिकल्स एण्ड  हेल्थ केयर के लीगल एडवाइजर एडवोकेट  को CMS  के सम्बन्ध मे स्वास्थ्य मंत्रालय भारत सरकार द्वारा भेजा गया पत्र –

img659

अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ACJM फिरोजाबाद कोर्ट  उ ०  प्र ० द्वारा प्रमाणपत्रों का सत्यापन –

img660 img661

कर्नाटक बैंगलोर पुलिस द्वारा प्रमाणपत्रों का सत्यापन –

img662img663